nn

कई पुरूषों का ऐसा सोचना है कि महिलाएं जब पहली बार सेक्‍स करती हैं तो उन्‍हें योनि से रक्‍त निकलता है और ये उनके वर्जिन होने की पहचान होती है। लेकिन सच कहा जाएं तो ये सिर्फ एक गलत धारणा है।

इसके अलावा, पुरूष ऐसा भी मानते हैं कि अगर किसी लड़की या महिला को सेक्‍स करने के दौरान दर्द नहीं हुआ है तो वह वर्जिन नहीं है। वैसे, हर महिला का शरीर अलग होता है और उसी के हिसाब से वो सेक्‍स के दौरान प्रतिक्रिया देती है।
कई महिलाओं को पहली बार सेक्‍स में दर्द होता है और कईयों को खून भी निकलता है। लेकिन ये वर्जिनिटी का सबूत नहीं होता है। इस बारे में कुछ तथ्‍य निम्‍न प्रकार हैं:
तथ्‍य 1: पहली बार सेक्‍स के दौरान खून, हाइमन के फटने की वजह से निकलता है जोकि एक प्रकार की झिल्‍ली होती है। यह झिल्‍ली, महिला के प्राईवेट पार्ट पर चढ़ी रहती है।
तथ्‍य 2: पुरूषों को यह नहीं मालूम होता है कि कुछ लड़कियों का जन्‍म बिना हाइमन के ही होता है और इस वजह से भी उन्‍हें पहली बार सेक्‍स के दौरान खून नहीं निकलता है।
तथ्‍य 3: कई महिलाओं की हाइमन, खेल गतिविधियों जैसे साइकिल चलाना, स्‍वीमिंग करना आदि के कारण भी फट जाती है।
तथ्‍य 4: जरूरी नहीं है कि जिसे रक्‍त नहीं निकला है उसे दर्द भी न हो। उसे दर्द हो भी सकता है और नहीं भी। लेकिन ये सब वर्जिनटी के प्रुफ नहीं है।
तथ्‍य 5: कुछ महिलाओं को पहली बार सेक्‍स के दौरान रक्‍त आ जाता है लेकिन उन्‍हें दर्द नहीं होता है। ये भी नहीं दर्शाता है कि वो वर्जिन हैं या नहीं।
तथ्‍य 6: कुछ महिलाओं में, हाइमन, हस्‍तमैथुन की वजह से भी फट जाती है। जबकि कुछ में ये बिना कारण भी क्रेक हो जाती है।
तथ्य 7. बिना इंटरकोर्स के भी कई बार महिलाओं की हाइमन फट जाती है। दौड लगाने वाली लड़कियों की हाइमन बहुत कम आयु में ही फट चुकी होती है। ये सभी पहली बार रक्‍त न निकलने के कारण हैं जिनको लोगों के द्वारा वर्जिन होने का सबूत मान लिया जाता है। जबकि लड़कियों या महिलाओं का शरीर, अलग होता है और इसकी संरचना भी बेहद जटिल होती है। जिसे समझना पुरूषों के लिए इतनी आसान बात नहीं है।
http://nationnews.in.net/wp-content/uploads/2018/06/yyy.jpghttp://nationnews.in.net/wp-content/uploads/2018/06/yyy-150x150.jpgnation_firstUncategorizedकई पुरूषों का ऐसा सोचना है कि महिलाएं जब पहली बार सेक्‍स करती हैं तो उन्‍हें योनि से रक्‍त निकलता है और ये उनके वर्जिन होने की पहचान होती है। लेकिन सच कहा जाएं तो ये सिर्फ एक गलत धारणा है। इसके अलावा, पुरूष ऐसा भी मानते हैं कि अगर...NATION FIRST TODAY
loading...